IIP की बढ़ोतरी दर पर लगा ब्रेक, RBI देगा आपको बड़ा फायदा!

लोकसभा चुनाव से पहले औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर पर ब्रेक लग गया है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक औद्योगिक उत्पादन (IIP) की वृद्धि दर जनवरी महीने में धीमी पड़कर 1.7 प्रतिशत रह गई. आईआईपी के आंकड़े रिजर्व बैंक की 4 अप्रैल को आने वाली मौद्रिक समीक्षा से पहले जारी किए गए हैं. ऐसे में अब माना जा रहा है कि इससे रिजर्व बैंक पर ब्याज दर में कटौती का दबाव बढ़ेगा. वहीं खुदरा महंगाई दर बढ़कर 4 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गई है लेकिन अब भी यह भारतीय रिजर्व बैंक के औसत लक्ष्य से कम बनी हुई है.

आरबीएल बैंक की अर्थशास्त्री रजनी ठाकुर के मुताबिक मुख्य महंगाई दर बढ़कर 2.57 फीसदी पर पहुंची है जबकि औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर आश्चर्यजनक रूप से घटकर 1.7 फीसदी पर आ गई है, ऐसे में रिजर्व बैंक के पास अप्रैल की मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों में 0.25 प्रतिशत कटौती की गुंजाइश है.

एक साल पहले का हाल

एक साल पहले यानी जनवरी, 2018 में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 7.5 फीसदी रही थी. आधिकारिक आंकड़ों में मंगलवार को कहा गया है कि माह-दर-माह आधार पर भी औद्योगिक उत्पादन सूचकांक आईआईपी समीक्षाधीन माह के दौरान दिसंबर 2018 की तुलना में घट गया. दिसंबर में यह 2.60 फीसदी था. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय सीएसओ ने मंगलवार को यह जानकारी दी.  सीएसओ ने एक बयान में कहा, “अप्रैल-जनवरी 2018-19 का सकल वृद्धि दर पिछले वर्ष की समान अवधि के दौरान 4.4 फीसदी रही. “

खुदरा महंगाई दर में इजाफा

खाने, पीने की चीजों के दाम बढ़ने से फरवरी में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 2.57 फीसदी पर पहुंच गई. यह इसका चार माह का उच्चस्तर है. इससे पहले अक्टूबर, 2018 में खुदरा महंगाई 3.38 फीसदी रही थी. वहीं जनवरी में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई दर 1.97 फीसदी और एक साल पहले फरवरी में 4.44 फीसदी पर रही थी.

अक्‍टूबर 2018 के बाद सबसे अधिक

माह के दौरान खाद्य महंगाई शून्य से 0.66 फीसदी नीचे रही, जो इससे पिछले साल इसी महीने में 3.26 फीसदी थी. वहीं प्रोटीन वाले प्रोडक्‍ट की बात करें तो मांस और मछली के अलावा अंडों की महंगाई दर फरवरी में क्रमश: 5.92 फीसदी और 0.86 फीसदी रही. जबकि फलों के महंगाई में 10 महीने की गिरावट आई है. 10 माह के दौरान 4.62 फीसदी घटे हैं जबकि सब्जियां 7.69 फीसदी सस्ती हुईं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *