रिटायरमेंट के बाद की है चिंता तो यहां लगाएं पैसे, होती रहेगी आमदनी

नई दिल्ली: नौकरी के दौरान तो पैसे आते रहते हैं, आय बनी रहती है, लेकिन रिटायर होने के बाद अगर पेंशन न हो तो कोई नियमित आमदनी नहीं होती। पैसे की जरूरत हर किसी को है। जीवन-यापन के लिए यह बहुत जरूरी है। फिर नियमित पैसे आते रहें इसके लिए कौन से ऐसे साधन हैं जिनसे रिटायर होंने के बाद भी आय बनी रहे। इस खबर में कुछ ऐसे निवेश विकल्पों के बारे में जानिए जिनमें पैसे लगाने के बाद आपको रिटायरमेंट के बाद भी पैसा मिलता रहेगा।

PPF: पैसे बचाने के लिए यह भी निवेश विकल्प बढ़िया है। पीपीएफ में पैसा जमा कर दिए हैं तो ब्याज के तौर पर आमदनी होते रहती है। जो लोग डेट में निवेश करते हैं उनके लिए पीपीएफ एक बेहतरीन विकल्‍प है। इसका ब्याज भी टैक्स फ्री होता है। PPF खाता बैंक ऑर पोस्ट ऑफिस में खोला जा सकता है।

Mutual Fund: पैसे इकठ्ठा करने के लिए म्युचुअल फंड शानदार विकल्प है। म्युचुअल फंड में निवेश पर काफी समय देना होता है, ऐसा बिलकुल भी नहीं है कि आप जल्दबाजी में हों और आप निवेश के बाद तुरंत रिटर्न चाहते हों। यह दीर्घकालिक निवेश के लिए बेहतर साधन है। इसमें लंबे समय के लिए निवेश करना होता है। म्युचुअल फंड में एसआईपी (SIP) के जरिए निवेश कर सकते हैं। लंबी अवधि में निवेश के लिए इक्विटी म्युचुअल फंड बेहतर रिटर्न देते हैं।

EPF: रिटायर होने के बाद यह निवेश विकल्प बहुत बढ़िया है। आपकी सैलरी में से 12 फीसद EPF में जमा होता है। इस पर 8.65 फीसद की दर से ब्याज मिलता है। हालांकि, यह वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए है, वे ही इसका फायदा उठा सकते हैं।

NPS: यह भी बेहतरीन निवेश साधनों में से एक है। नेशनल पेंशन सिस्‍टम में निवेश पर आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये तक की कटौती का लाभ मिलता है। इसमें 6 अलग-अलग फंड में निवेश किया जा सकता है। इसमें सालाना न्यूनतम निवेश 6,000 रुपये कर सकते हैं। NPS में निवेश की कोई ऊपरी सीमा नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *