संघ की प्रतिनिधि सभा की तीन दिवसीय बैठक 8 मार्च से, कई मुद्दों पर होगी चर्चा

नई दिल्ली, 04 मार्च (उदयपुर किरण). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की तीन दिवसीय वार्षिक बैठक 8 से 10 मार्च को मध्य प्रदेश के ग्वालियर के केदारपुर में होने जा रही है. इस तीन दिवसीय बैठक में संघ के सभी बड़े नेताओं से लगायत उसके सभी आनुषांगिक संगठनों के शीर्ष नेता भाग लेंगे.

सर संघचालक मोहन भागवत तथा सर कार्यवाह भैयाजी जोशी इसके लिए शनिवार को ही ग्वालियर पहुंच चुके हैं. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की यह सर्वोच्च निर्णायक बाडी है. इसलिए इसके तीन दिवसीय बैठक पर सत्ताधारी दल के अलावा विपक्षी दलों की भी निगाहें लगी हुई हैं.

सूत्रों का कहना है कि इस बैठक के लिए केन्द्रीय कार्यकारिणी ने आज से प्रस्ताव तैयार करना शुरू कर दिया है, जो 7 मार्च तक पूरा होगा. उस पर 8 से 10 मार्च तक की बैठक में विचार-विमर्श करके पारित किया जाएगा. इसमें वर्तमान राजनीतिक, सामाजिक,आर्थिक स्थिति के मद्देनजर तथा अगले माह से शुरू होने वाले लोकसभा चुनाव के परिप्रेक्ष्य में कई निर्णय होने की संभावना जताई जा रही है.

सूत्रों का कहना है कि इसमें पुलवामा आतंकी घटना और उसके बाद किये गए एयर स्ट्राइक के बाद बने हालात पर भी विचार-विमर्श होगा. आनुषांगिक संगठन भाजपा को लोकसभा चुनाव में किस राज्य में किस तरह से मदद की जा सकती है, इस पर भी बातचीत हो सकती है. इस बैठक में संघ के सभी आनुषांगिक संगठन अपनी वार्षिक रिपोर्ट, कामकाज का ब्यौरा प्रस्तुत करते हैं. उस पर आगे के कार्य का निर्णय व कमियों में सुधार करने की योजना बनती है. इस बैठक देशभर से लगभग 1550 प्रतिनिधि शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *