मंदिर में लगेंगे बुलेटप्रूफ शीशे, करीब से रामलला के दर्शन कर सकेंगे भक्त

लखनऊ: अयोध्या रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने कहा है कि महंत नृत्यगोपालदास को राम मंदिर ट्रस्ट का अध्यक्ष बनने से व्यवस्था में परिवर्तन होगा. उन्होंने कहा है कि मंदिर बनने से पहले रामलला ऐसी जगह पर शिफ्ट किया जाएगा जहां नजदीक से भक्त उनके दर्शन कर सकेंगे. आचार्य सतेंद्र दास दर्शन ने आगे बताया, ‘रामलला के दर्शन के लिए जाने वाले मार्ग के घुमाओ को कम किया जाएगा. रामलला बुलेटप्रूफ शीशे के मंदिर में विराजेंगे. मंदिर फाइबर से बना होगा. तिरपाल से रामलला फाइबर के मंदिर में विराजेंगे और उसके बाद राम मंदिर निर्माण शुरू होगा.

उन्होंने कहा, ‘श्रद्धालु नजदीक से रामलला का दर्शन कर खुश होंगे और फाइबर के मंदिर में बाल्यरूप श्री राम अपने तीनों भाई लक्ष्मण, भरत व शत्रुघन सहित भक्तों को दर्शन देंगे.’

रामलला के मुख्य पुजारी का कहना है कि इस वक्त जहां रामलला विराजमान हैं, वह गर्भगृह है, लेकिन मंदिर निर्माण के लिए उस जगह को खाली करना होगा. इंजीनियरों ने नाप जोख कर रामलला को शिफ्ट करने की जगह को चिन्हित किया है. मानस भवन के दक्षिण तरफ रामलला शिफ्ट हो सकते हैं. जहां रामलला के दर्शनार्थियों के लिए सरल व्यवस्था होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *