गर्मी ने तोड़ा फ्रांस में भी रिकॉर्ड, पहली बार 45 के पार, सड़कों पर लगाने पड़े फव्वारे

भीषण गर्मी से न केवल हिंदुस्तान बल्कि दुनिया के बाकी देश भी जूझ रहे हैं। शुक्रवार को फ्रांस में पहली बार तापमान 45 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया। फ्रांस की मौसम एजेंसी स्टेट वेदर फोरकास्ट मीडिया-फ्रांस ने बताया कि यूरोप इस समय भयंकर गर्मी और लू से जूझ रहा है। गर्मी के कहर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि फ्रांस में लोगों को राहत देने के लिए सड़कों पर फव्वारे लगाए गए हैं। फ्रांस के मौसम का यह इतिहास गार्ड के दक्षिणी विभाग में विलेविएइल के गांव में दर्ज किया गया, जहां तापमान 45.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मीटियो-फ्रांस ने बताया कि इससे पहले अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड 44.1 डिग्री सेल्सियस था, जो साल 2003 के अगस्त महीने में इसी क्षेत्र में दर्ज किया गया था।

वहीं, स्पेन में लू के चलते मौतों के कम से कम दो मामले सामने आए हैं। दक्षिणी अंदलूसिया क्षेत्र में खेत के काम में मदद करने के बाद एक किशोर स्विमिंग पूल में उतरागेहूं की कटाई में मदद करने के दौरान चक्कर आना महसूस करने के बाद, एक स्पेनिश किशोरी आक्षेप के साथ ढह गई जब उसने एक स्विमिंग पूल में डुबकी लगाई। इसके बाद वह बेहोश हो गया। किशोर को तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन उसकी मृत्यु हो गई। इसके अलावा स्पेन के वालाडोलिड में एक 93 वर्षीय व्यक्ति की लू लगने से मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *