कोरोना के साथ संचारी रोग से लड़ाई को तैयार योगी सरकार

फाइल

लखनऊ, 29 जून दस्तक (ब्यूरो):  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार पर अंकुश लगाने के साथ ही बरसात के दौरान होने वाली बीमारियों से निपटने की भी तैयारी कर ली है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक में अफसरों को इस बाबत निर्देश भी दिया है। उन्होंने कोविड-19 के साथ एक से 31 जुलाई तक संचालित किए जाने वाले सचारी रोग नियंत्रण अभियान की तैयारियों की समीक्षा की।

पूरी क्षमता के साथ ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में कोरोना संक्रमण तथा वर्षा ऋतु में संचारी रोगों के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए स्वच्छता के सम्बन्ध में प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना का कहर गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद तथा मेरठ मण्डल में बढ़ रहा है। इसको लेकर पूरी सतर्कता तथा सावधानी बरती जाए। इन सभी जगह ट्रूनैट मशीनों तथा रैपिड एन्टीजेन टेस्ट मशीनों को पूरी क्षमता से कई जगह संचालित करते हुए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि हर जगह पर ओपीडी संचालित करने वाले अस्पताल में कोविड हेल्प डेस्क अनिवार्य रूप से स्थापित हो।

फाइल

घर-घर कोविड-19 की जागरुकता अभियान

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि फील्ड में तैनात शासकीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा विशेष सावधानी बरती जाए। अभी भी कई जगह पर सावधानी नहीं बरती जा रहा है। इसके लिए सॢवलांस टीम घर-घर में कोविड-19 से बचाव सम्बन्धी हैण्डबिल उपलब्ध कराए। इसके साथ ही अंतरविभागीय समन्वय से कार्यों को निचले स्तर तक पहुंचाने पर बल दें। पेयजल की आपूर्ति को सुव्यवस्थित बनाए रखते हुए लोगों को पानी गरम कर तथा छानकर पीने के लिए जागरूक किया जाए। समय से पहले मानसून आने के दृष्टिगत बाढ़ नियंत्रण के सम्बन्ध में पूरी सतर्कता बरती जाए। बाढ़ राहत शिविर समय से तैयार कर लिए जाएं।

बाढ़ राहत शिविर में अलर्ट जारी

फाइल

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाढ़ नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश में पूरी सतर्कता बरती जाए। सभी जगह पर समय से बाढ़ राहत शिविर तैयार करें। प्रदेश में इन दिनों कहर बन रहे टिड्डी दल को नियंत्रित करने के लिए प्रभावी कार्यवाही की जाए। इनके साथ ही गौ-आश्रय स्थलों की व्यवस्था को सुदृढ़ करते हुए गौवंश के लिए चारे की सुचारु व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *