कोटा के पुलिस थाना मकबरा को मिलेगा ‘महाराणा मेवाड़ विशिष्ट सम्मान’

उदयपुर, 02 मार्च (उदयपुर किरण). महाराणा मेवाड़ चैरिटेबल फाउण्डेशन उदयपुर के 37वें वार्षिक सम्मान समर्पण समारोह वर्ष 2019 में प्रदान किए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय व राज्यस्तरीय अलंकरणों के अतिरिक्त प्रदान किए जाने वाले विशिष्ट सम्मानों की घोषणा शनिवार को की गई. इस बार महाराणा मेवाड़ विशिष्ट सम्मान के लिए पुलिस थाना मकबरा, कोटा शहर को चुना गया है. वार्षिक सम्मान समारोह के संयोजक मयंक गुप्ता ने बताया कि 10 मार्च की शाम 4 बजे फाउण्डेशन के अध्यक्ष एवं प्रबंध न्यासी अरविन्द सिंह मेवाड़ की उपस्थिति में सिटी पैलेस प्रांगण उदयपुर में होने वाले समारोह में इन प्रतिभाओं को अलंकृत किया जाएगा.

विशिष्ट सम्मानों में राष्ट्रीय कबड्डी टीम के कप्तान एवं जिमनास्ट उदयपुर के मनीष सिंह को उनके कुशल प्रदर्शन के लिए चुना गया है. एक दुर्घटना में 11 केवी बिजली के सम्पर्क में आ जाने के कारण मनीष के हाथ में संक्रमण फैल गया और उनके दाहिने हाथ का कोहनी के नीचे का हिस्सा सर्जरी से हटाना पड़ा. किन्तु मनीष ने हार नहीं मानी और अपनी प्रतिभा को निखारते हुए राष्ट्रीय स्तर पर कुशल प्रदर्शन कर दिखाया. मध्यप्रदेश के मुरैना में रहने वाली 10 वर्षीय नन्हीं अद्रिका गोयल एवं 14 वर्षीय उनके भाई कार्तिक गोयल का भी चयन किया गया है. अप्रेल 2018 में जब दंगों के दौरान यूपी की छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस जिसे दंगाइयों ने कब्जे में ले रखा था, शहर में पत्थरबाजी और कफ्र्यू के कारण बंद था, ऐसे संकट भरे माहौल में दोनों भाई-बहन ने ट्रेन में फंसे यात्रियों तक जैसे-तैसे भोजन व पानी पहुंचाया. यही नहीं दोनों बच्चों ने कई यात्रियों के लिए दवा और प्राथमिक चिकित्सा दिलवाने में भी मदद प्रदान की.

इलाहाबाद उत्तर प्रदेश के नन्हें पुरातत्वविद अर्श अली को उनके द्वारा किए गए शोध कार्य के लिए चुना गया है. अर्श भारत के विभिन्न हिस्सों में उत्खनन व खोज में लगे हुए हैं. सम्राट अशोक अपने शासनकाल के दौरान बौद्ध धर्म की शिक्षाओं को भारत से बाहर अन्य महाद्वीपों पर भी फैलाना चाहते थे, जिसके लिए कई कार्य हुए. अर्श वर्तमान में भारत, मिस्र व ब्रिटेन की प्राचीन 15 से अधिक लिपियों और भाषाओं का अध्ययन कर रहे हैं. ऋत्विक सिंह राठौड़ को छोटी उम्र में दो पुस्तकों के लेखन के लिए चुना गया है. ऋत्विक ने समाज में व्याप्त लिंग भेद जैसी सामाजिक कुरीतियों पर ‘शी’ नामक पुस्तक का लेखन कर समाज में बालिकाओं की स्थिति का आईना दिखाया है. उन्होंने ‘शी’ के बाद ‘डस्की डाउन‘ का लेखन भी किया है.

नाथद्वारा की 8 वर्षीय वंशिका शर्मा को कुश्ती-जुड़ो एवं कराटे में राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने तथा उदयपुर की निधि चन्देरिया को हॉकी की राष्ट्रीय टीम में चयन व खेल उपलब्धि के लिए चुना गया है. इसी तरह विशिष्ट सम्मानों में आदिवासी अंचल गांव बनादिया-धार उदयपुर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के मांगी लाल गमेती को राष्ट्रीय स्तर पर हैण्डबाल, उपलावास कुण्डाल गांव की बसंती गमेती को हॉकी, टीलाखेड़ा के सुरेश गमेती को सॉफ्टबॉल में प्रतिभा दिखाने के लिए चयन किया गया है. महाराणा मेवाड़ फाउण्डेशन के सम्मान समारोह में इन विद्यार्थियों को महाराणा फतहसिंह विशिष्ट सम्मान के तहत पांच हजार एक रुपये, मैडल एवं प्रशस्तिपत्र भेंट किए जाएंगे. इसी तरह वर्ष 2008 में आरम्भ किए गए राजस्थान राज्य के सर्वश्रेष्ठ पुलिस थाने को उत्कृष्ट कार्यों के लिए दिया जाने वाला ‘महाराणा मेवाड़ विशिष्ट सम्मान’ पुलिस थाना मकबरा, कोटा शहर को प्रदान किया जाएगा. इस अलंकरण के तहत पच्चीस हजार एक रुपये, मैडल, तोरण एवं प्रशस्तिपत्र भेंट किए जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *