कासगंज में तीनों शवों का संगीनों के साए में हुआ अंतिम संस्कार

  • प्रशासनिक अधिकारियो एवं नेताओं की रही मौजूदगी
  • गांव में मचा हाहाकार, किसी भी घर में नहीं जले चूल्हे

कासगंज (एजेंसी): जनपद में हुए तिहरे हत्याकांड में मौत का शिकार हुए एक ही परिवार के तीनों युवकों के शव सोमवार की दोपहर गांव में पहुंचे। शवों के पहुंचते ही गांव में चीत्कार मच गया। पहले से मौजूद जनपद के अधिकारियों एवं नेताओं के समक्ष तीनों शव का संगीनों के साए मे अंतिम संस्कार किया गया। समूचे गांव का माहौल गमगीन रहा। यहां तक कि गांव में कि किसी घर में चूल्हे नहीं जलाए गए।

जनपद में दिल दहला देने वाली घटना में एक ही परिवार के 3 लोगों की जान चली गई। तीनों को हमलावरों ने गोलियों से छलनी कर दिया। इनके शवो का अंतिम परीक्षण कराया गया। इस कार्रवाई के बाद सोमवार की दोपहर तीनो शव सोरों क्षेत्र के गांव होडलपुर पहुंचे। यहां गांव में शवों को देखते ही माहौल और अधिक गमगीन हो गया। चारों ओर चीत्कार मचने लगा आनन-फानन में परिवारी जनों ने शवो की अंतिम क्रिया के लिए तैयारी प्रारंभ कर दी। यहां पहले से मौजूद जनपद के अधिकारी अपर जिलाधिकारी एके श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रकाश वर्मा एवं पूर्व सांसद डॉ देवेंद्र सिंह यादव, भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. बीडी राणा, कांग्रेसी नेता सुरेश चंद पटियात ने भी मृतकों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद छावनी में तब्दील पूरे गांव मैं शवों को घुमाने के बाद श्मशान में ले जाकर उनका अंतिम संस्कार किया गया। एक साथ 3 शवों के जलने से गांव का माहौल पूरी तरह गमगीन रहा। यहां तक कि गांव के किसी भी घर में चूल्हे तक नहीं जले।

पूर्व विधायक से हैं पीड़ित परिवार की रिश्तेदारी

ग्राम होडल पुर में घटना का शिकार हुए एक ही परिवार के तीन युवकों की रिश्तेदारी कासगंज क्षेत्र से पांच बार विधायक रहे स्वर्गीय नेतराम सिंह के परिवार से है। पूर्व विधायक के पुत्र भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के सन्निकट डॉ बीडी राणा के बेटे अजय राणा को पीड़ित परिवार राजपाल की बेटी ब्याही है। डॉक्टर बीडी राणा के मुताबिक उनके द्वारा भी इलाका पुलिस को इस रंजिश में होने वाले खून खराबे के संबंध में कई बार आगाह किया गया। लेकिन पुलिस ने कोई तवज्जो नहीं दिया। फलस्वरूप एक परिवार के तीन लोगों की हत्या हो गई।


प्रदेश में अराजकता का माहौल है: पूर्व सांसद देवेंद्र

समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद डॉ देवेंद्र सिंह यादव सोरों कोतवाली क्षेत्र के गांव होडल पुर में हुए जघन्य आपराधिक मामले में एक ही परिवार की तीन जाने चली गई। इन पीड़ित परिवारी जनों को सोमवार की दोपहर सांत्वना देने पहुंचे। यहां उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कासगंज ही नहीं पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है। कानून व्यवस्था के मामले में योगी सरकार पूरी तरह फेल है। आए दिन बलात्कार, अपहरण, लूट एवं हत्या के मामले प्रकाश में आ रहे हैं। इस तरह के अपराधों को रोकने में योगी सरकार सक्षम साबित नहीं हो पा रही है। उन्होंने कहा है कि अब प्रदेश की जनता भारतीय जनता पार्टी के कारनामों से उड़ गई है, और विकल्प की तलाश कर रही है।

The post कासगंज में तीनों शवों का संगीनों के साए में हुआ अंतिम संस्कार appeared first on Dastak Times.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *