B’day Special: किसी स्टार क्रिकेटर से कम नहीं हैं मंधाना, द्रविड़ से मिला था गिफ्ट


वुमन टीम इंडिया की स्टार क्रिकेटर स्मृति मंधाना गुरुवार 18 जुलाई को 23वां जन्मदिन मना रही हैं. स्मृति ने पिछले एक साल में वुमन टीम इंडिया में अपना खास मुकाम को बनाया ही है, टीम को भी नई ऊंचाईयां देने में भी अहम भूमिका निभाई है. 1996 को मुंबई में जन्मी स्मृति को घर में ही क्रिकेट का माहौल मिला. मंधाना क्रिकेट के साथ ही खाना बनाने की शौकीन हैं और सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव भी. सोमवार को ही स्मृति ने खेल मंत्री किरन रिजिजू से अर्जुन अवार्ड लिया है.

क्या कहते हैं स्मृति के करियर के आंकड़े
स्मृति ने अब तक दो टेस्ट 50 वनडे और 58 टी20 इंटरनेशनल खेले हैं. टी20 इंटरनेशनल की 56 पारियों में मंधाना ने 1298 रन बनाए हैं. जिसमें उनका सर्वोच्च स्कोर 86 रन है. उन्हें 9 फिफ्टी लगाई हैं. वहीं वनडे की 50 पारियों में मंधाना ने चार शतक और 10 हाफ सेंचरी के साथ 42.41 के औसत से 1951 रन बनाए हैं. उनका सर्वोच्च स्कोर 135 रन है. वहीं अब तक स्मृति ने केवल दो टेस्ट मैच ही खेले हैं जिनमें स्मृति ने एक हाफ सेंचुरी सहित 81 रन बनाए हैं.

जब द्रविड़ से मिला बैट
पिता और भाई जिला स्तर के क्रिकेटर रह चुके हैं. और केवल 9 साल की उम्र में वे महाराष्ट्र अंडर 15 टीम में आई और जल्द ही अपने बढ़िया खेल के दम पर वे महाराष्ट्र अंडर 19 टीम में भी आ गईं. 17 साल की उम्र में जब वेस्ट जोन अंडर 19 क्रिकेट टूर्नामेंट में स्मृति ने गुजरात के खिलाफ डबल सेंचुरी लगाई तो उससे राहुल द्रविड़ बहुत प्रभावित हुए. उनकी 150 गेंदों में 224 रनों की पारी को ही देखकर ही द्रविड़ ने अपना बैट उन्हें दिया था. स्मृति ने द्रविड़ के सम्मान की लाज रखी और नए मुकाम हासिल करती गईं.

मैथ्यू हेडन हैं फेवरेट
स्मृति कैसी बैटर हैं इसका अंदाजा उनके आंकड़े पूरी तरह से नहीं दे पाते हैं. उनकी बैटिंग के मुरीद राहुल द्रविड़ से लेकर मैथ्यू हेडन तक हैं. उनका बल्ला चलता है तो तेज चलता है और उनके शॉट्स में शास्त्रीय अंदाज यानि कि क्रिकेटीय तकनीक भी दिखाई देती है. इसी वजह से कुछ लोग उन्हें लेडी तेंदुलकर या लेडी सहवाग तक कह देते हैं. लेकिन बाएं हाथ की इस बल्लेबाज का आदर्श बल्लेबाज कोई और नहीं खुद मैथ्यू हेडन हैं. कई विशेषज्ञों को उनमें संगकारा के अंदाज की झलक दिखाई देती है. स्मृति महिला विश्वकप में सेंचुरी लगाने वाली सबसे कम उम्र की पहली भारतीय महिला बैट्स मैन हैं. 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मंधाना ने 103 रनों की यादगार पारी खेली थी.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *