16 जून रविवार को होने वाले हिंदुस्तान-पाक के मैच से पहले फैन्स को है इस बात का भय

16 जून रविवार को होने वाले हिंदुस्तान-पाक के मैच से पहले फैन्स को है इस बात का भय

अभी तक हुए मैचों में। गुरुवार को नॉटिंघम में हिंदुस्तान व न्यूजीलैंड के बीच होने वाला अहम मुकाबला भी गया। इसके साथ ही अब तक इस वर्ल्डकप के 4 मैच चुके हैं। ऐसे में अब भारतीय टीम के फैन्स 16 जून रविवार को मैनचेस्टर में होने वाले हिंदुस्तान पाक मैच को लेकर भी बारिश का भय सताने लगा है। ऐसा बताया जा रहा है कि मैनचेस्टर में भी बारिश हो सकती है। बारिश के चलते निराश क्रिकेट फैन्स शुक्रवार को एक बार सोशल मीडिया पर लोग आईसीसी पर निशाना साध रहे हैं। ट्विटर पर #ShameOnICC टॉप ट्रेंड में बना हुआ है।

कुछ लोग इस सारे ग्राउंड को कवर नहीं करने को लेकर आईसीसी पर निशाना साध रहे हैं। कुछ लोग ऐसा भी दावा कर रहे हैं कि 16 जून को मैनचेस्टर में होने वाले हिंदुस्तान पाक मैच में भी बारिश आने का अनुमान है। क्योंकि भारतीय ग्राउंड्स पर बारिश के समय सारे मैदान को कवरअप किया जाता है लेकिन इंग्लैंड में ऐसा नहीं हो रहा है। वहां केवल पिच को कवर किया जा रहा है। जिसके चलते बारिश के रुकने पर भी मैदान में गीलापन रहता है जिससे बॉल के बेकार होने से लेकर फील्डिंग में कठिनाई जैसी दिक्कतें आती हैं।

वैभव ने मैनचेस्टर में आने वाले दिनों का मौसम पूर्वानुमान भी तस्वीर के माध्यम से शेयर किया इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट किया, ‘आने वाले ज्यादातर मैचों में बारिश के हावी रहने का अनुमान है। बहुत अच्छा शेड्यूल है आईसीसी। शर्मिंदगी उठाने से अच्छा हो कि वर्ल्डकप को इंडोर में वीडियो गेम की की तर्ज पर खेला जाना चाहिए। ‘

सिंधियां नाम के ट्विटर अकाउंट से फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर का एक वीडियो GIF शेयर किया है, जिसे देखकर आप भी अपनी हंसी नहीं रोक सकेंगे।

बता दें कि इस बार राउंड रॉबिन फॉर्मेट के तहत खेले जा रहे वर्ल्डकप में टीमों के लिए हर मैच बहुत ज्यादा जरूरी है। ऐसे में बिना खेले ही मैचों का रद्द हो जाना सभी टीमों के आगे जाने के रास्ते में बाधा बनता जा रहा है। इसका प्रभाव प्वाइंट्स टेबल पर भी देखने को मिल रहा है। अभी तक श्रीलंका के 4 मैच हो चुके हैं लेकिन उसने केवल एक मैच ही जीता है। श्रीलंका ने एक मैच हारा है व बाकि दो मैच गए हैं। लेकिन प्वाइंट्स टेबल श्रीलंका के प्वाइंट 4 है। जबकि अपने दोनों अहम मैच जीतने वाली भारतीय टीम के प्वाइंट्स भी 4 है। ऐसे में क्रिकेट वर्ल्डकप 2019 के आयोजन पर मौसम को दरकिनार करने को लेकर निशाना साधा जा रहा है।

कोई कह रहा है कि इस बार क्रिकेट विश्वकप बारिश लेकर जाएगी, कोई कह रहा है तो कोई आईसीसी को किसी अन्य जगहों पर वर्ल्डकप आयोजन कराने की सलाह दे रहा है। आपको बताते हैं कि सोशल मीडिया पर इस बार के क्रिकेट वर्ल्डकप को लेकर आईसीसी पर निशाना साधते हुए किस तरह के मीम्स शेयर किए जा रहे हैं। दिव्या अर्जुन नाम के ट्विटर अकाउंट से नदी पर बांस की नाव पर क्रिकेट खेलते हुए मीम्स बनाया गया।

लेज़ी साकेत के ट्विटर अकाउंट से पानी में आधे डूबे हुए विश्वकप की ट्रॉफी की तस्वीर के साथ लिखा गया, ‘बारिश निश्चित रूप से सेमीफाइनल में पहुंचेगी। ‘

राओल गांधी नाम के ट्विटर अकाउंट से लिखा गया, ‘वर्ल्डकप के ज्यादातर मैच गए। क्रिकेट फैन्स ने क्वीन एजिजाबेथ से कहा’

विश्व कप पर बारिश की मार, आईसीसी ने बोला ‘रिजर्व डे’ विकल्प नहीं
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के निवर्तमान मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन ने बोला कि बारिश से प्रभावित दुनिया कप मैचों के लिये अलग से दिन (रिजर्व डे) रखना टूर्नामेंट की लंबी अवधि को देखते हुए व्यावहारिक रूप से असंभव है। श्रीलंका के पाक व बांग्लादेश के विरूद्ध दोनों मैच गये। इन दोनों मैचों में एक गेंद भी नहीं डाली जा सकी। दक्षिण अफ्रीका ववेस्टइंडीज के बीच एक अन्य मैच केवल 7.3 ओवर के खेल के बाद रद्द कर दिया गया जिसके बाद मैचों के लिये अलग से सुरक्षित दिन रखने की मांग उठ रही है।

रिचर्डसन ने बयान में कहा, ‘‘विश्व कप के हर मैच के लिये एक अन्य दिन भी तय करने से टूर्नामेंट की अवधि व लंबी खिंच जाएगी व व्यावहारिक तौर पर इसे संचालित करना बेहद जटिल होगा। ’’
मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार इंग्लैंड में जून में औसत से दोगुनी बारिश हो रही है।

रिचर्डसन ने कहा, ‘‘यह पूरी तरह से बेमौसम की बरसात है। पिछले दो दिन में यहां जितनी बारिश हुई वह सारे जून में होने वाली औसत बारिश से दोगुनी है। जून को ब्रिटेन में सबसे सूखा महीना माना जाता है। पिछले वर्ष 2018 में जून में केवल दो मिमी बारिश हुई थी लेकिन पिछले 24 घंटों में ही दक्षिण पूर्व इंग्लैंड में 100 मिमी बारिश हो गयी। ’’उन्होंने प्रत्येक मैच के लिये एक दिन सुरक्षित रखने के असर पर विस्तार से बात की।

रिचर्डसन ने कहा, ‘‘इससे पिच की तैयारियों, टीम की तैयारियां व यात्रा के दिनों, आवास व स्थल की उपलब्धता, टूर्नामेंट के स्टाफ से जुड़ी चीजें, स्वयंसेवक व मैच अधिकारियों की उपलब्धता, प्रसारण उपकरणों व मुख्य तौर पर दर्शक प्रभावित होंगे, जिन्होंने मैच देखने के लिये कई घंटों की यात्रा की है। ’ उन्होंने कहा, ‘‘इसकी भी कोई गारंटी नहीं है जो दिन अन्य दिन आपने मैच के लिये सुरक्षित रखा है उस दिन बारिश नहीं होगी। ’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *