सचिन सर मुझे बल्लेबाजी के मानसिक पहलुओं के बारे में बताते हैं – पृथ्वी शॉ


मुंबई: क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर तमाम युवा खिलाड़ियों के लिए आदर्श की तरह हैं। सचिन तेंदुलकर को युवा अपना सब कुछ मानते हैं। यहां तक कि खुद सचिन तेंदुलकर भारत के युवा खिलाड़ियों की हर प्रकार से मदद करते रहे हैं। अब उनको लेकर युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने कहा कि सचिन तेंदुलकर ने उनके साथ कई बार बातचीत में बल्लेबाजी तकनीकि के बजाय बल्लेबाजी के मानसिक पहलुओं के बारे में अधिक बात की है।

अपने एम्प्लॉयर इंडियन ऑयल से इंस्टाग्राम पर लाइव चैट करते हुए पृथ्वी शॉ ने कहा है, “मैं आठ साल का था, जब मैं सचिन सर से मिला था और उस समय से, वह मेरे गुरु हैं और मैंने उनसे बहुत सी चीजें सीखी हैं कि आपको मैदान से बाहर क्या करना है और मैदान के अंदर किस तरह से व्यवहार करना है। इसमें अनुशासन ही नहीं, बल्कि तमाम बाते हैं।” शॉ को लगता है कि तेंदुलकर अब भी अपने व्यस्त कार्यक्रम में से समय निकालकर उनको अभ्यास करते देखते हैं।

राजकोट में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू में शतक जड़ने वाले पृथ्वी शॉ ने कहा है, “अब जब भी मैं अभ्यास के लिए जाता हूं, अगर सचिन सर मुझे देखने के लिए हैं, तो वह बात करेंगे, तकनीकी रूप से नहीं बल्कि मानसिक रूप से अधिक… इसलिए यह सचिन सर के मार्गदर्शन और कोचों के बहुत से मेरे लिए एक शानदार यात्रा रही है।” डेब्यू मैच में अच्छा करने के बाद वे इंजरी की वजह से और फिर डोपिंग की वजह से टीम से बाहर हो गए थे।

हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में खुद सचिन तेंदुलकर ने ये बात स्वीकार की थी कि वे पृथ्वी शॉ से बात करते हैं। सचिन ने कहा था, “यह सत्य है। मैंने कई बार पिछले कुछ सालों में पृथ्वी शॉ से बात की है। वह बहुत ही प्रतिभाशाली खिलाड़ी है और मैं उनकी मदद करके खुश महसूस करता हूं। मैंने उनके क्रिकेट के बारे में भी बात की है और क्रिकेट की दुनिया से बाहर के बारे में भी बात की है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *