ये खिलाड़ी मजदूरों को बांट रहा हैं खाना, इस बार परिवार नहीं मनाएगा ईद


नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के समय में हर कोई मजबूर और मजदूर लोगों की मदद के लिए आगे आ रहा है। बड़े क्रिकेटरों की तरह छोटे क्रिकेटर यानी युवा खिलाड़ी भी अपने-अपने तरीके से लोगों की मदद कर रहे हैं। इस लिस्ट में अब मुंबई के लिए खेलने वाले यूपी के युवा क्रिकेटर सरफराज खान भी शामिल हो गए हैं, जो बाहर के प्रदेशों से यूपी में आ रहे प्रवासी मजदूरों को खाने के पैकेट बांटने का काम कर रहे हैं।

कोरोना वायरस के बीच काम छूटने की वजह से प्रवासी मजदूर अपने-अपने घर लौट रहे हैं। ऐसे में रास्ते में खाने-पीने के लिए उनको परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। यही कारण है कि सरफराज खान ने खाना वितरित करके सैकड़ों लोगों की मदद की है। दाएं बाथ के बल्लेबाज और मुंबई के लिए इसी सीजन में तिहरा शतक ठोकने वाले सरफराज खान आजमगढ़ के रहने वाले हैं और वे यहीं अपने भाई और पिता के साथ मिलकर मजदूरों खाने के पैकेट बांट रहे हैं।

किंग्स इलेवन पंजाब के लिए आइपीएल 2020 में उतरने के लिए तैयार सरफराज खान अपने गांव में ही रह रहे हैं। यहां तक कि उनके परिवार ने इस बार ईद नहीं मनाने का फैसला किया है। सरफराज खान ने आउटलुक से बात करते हुए कहा है, “जब हम मार्केट जाते हैं तो देखते हैं कि सैकड़ों लोग सड़क से जा रहे हैं और ऐसे में हमने उनकी मदद करने का फैसला लिया। ये मेरे पिता का विचार था कि प्रवासी मजदूरों की कैसी मदद की जाए।”

सरफराज के पिता नौशाद खान ने कहा है कि वे अब तक हजारों पैकेट खाना जरूरतमंदों को बांट चुके हैं और लगातार ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने जानकारी दी है कि इस पैकेट में एक सेब, एक केला, केक बिस्कुट और पानी की बोतल है। सरफराज खान और उनके परिवार के इस सराहनीय कार्य का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सरफराज के भाई ने बताया है कि उन्होंने इस बार प्रवासी मजदूरों की मदद की वजह से ईद नहीं मनाने का फैसला किया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *