युवराज ने इस खिलाड़ी से कहा- शुक्र करो तुमको सीट से उठाया, बस से बाहर नहीं फेंका था


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट के दो दिग्गजों युवराज सिंह और रोहित शर्मा ने सोशल मीडिया पर एक चर्चा की और फैंस को काफी सारी मजेदार बातें जानने को मिली। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से जारी लॉकडाउन में भारतीय खिलाड़ी घर पर है और इस दौरान एक दूसरे से सोशल मीडिया के जरिए जुड़े हुए हैं।

युवराज और रोहित ने मंगलवार को इंस्टाग्राम लाइव में काफी देर बात की। रोहित अक्सर यह बात बताते हैं कि कैसे पहली बार जब वो टीम बस में गए तो युवराज की सीट पर बैठे थे। युवी ने आते ही उनको सीट खाली करने की हिदायत दी और फिर उनको उठना पड़ा।

युवराज ने रोहित को इस घटना पर एक दूसरी कहानी सुनाई और कहा- “शुक्र मनाओ कि मैंने तो आपको सिर्फ सीट से उठाया था बस से बाहर नहीं फेंका।”

युवी ने रोहित से कहा- “क्या आपने वो ब्रायन लारा का वीडियो देखा है। रोहित ने जवाब दिया नहीं, इसपर युवी ने लारा की कहानी सुनाई। जब लारा पहली बार वेस्टइंडीज टीम में शामिल हुए तो ड्रेसिंग रूम में सबसे पहले पहुंचकर अपना किट बैग रख आए थे। थोड़ी देर बाद ही जब टीम के बाकी खिलाड़ी वहां पहुंचे को लारा का बैग उड़ता हुआ ड्रेसिंग रूम से बाहर आया। लारा ने विव रिचर्ड्स की सीट पर अपना बैग रखा था और उन्होंने इसे उठाकर बाहर फेंक दिया।”

युवराज ने इस घटना को जिक्र करते हुए रोहित को कहा, “मैं अपने एक दोस्त को यह बात कह रहा था कि मैंने तो रोहित को सिर्फ सीट से ही उठने बोला। वो भाग्यशाली थे कि उनको मैंने बस में आने दिया।”

युवराज सिंह से बात करते हुए रोहित शर्मा ने बताया कि देखो वैसे तो यह बात मैं बहुत बार कर चुका हूं तो अब वापस से नहीं करने वाला। युवराज ने इसपर रोहित को कहा बताओ ये बात सबको पता चलनी चाहिए। पहले तुम अपनी तरफ की कहानी बताओ उसके बाद मैं अपनी तरफ की कहानी सुनाउंगा।

रोहित ने बताया कि वो पहली बार भारतीय टीम के बस में सफर करने जा रहे थे तो जल्दी गए और युवी की सीट पर बैठ गए थे। उनको इस बात का डर था कि अगर पहले दिन लेट हो गए तो लोग क्या कहेंगे तो आधा घंटा पहले ही पहुंच गए थे। गलती से युवी पा की सीट पर बैठ चुका था। युवी पा जब अंदर आए तो पूछा पता है ये किसका सीट है तो आपने इशारा किया ये मेरी सीट है और मैं चला गया।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *