पाकिस्तानी कोच ने की गुजारिश, कहा- जल्दबाजी में स्थगित नहीं होना चाहिए T20 वर्ल्ड कप 2020


कराची: अधिकारियों को आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप जल्दबाजी में स्थगित करने का फैसला नहीं लेना चाहिए, क्योंकि जब क्रिकेट की बहाली होगी तो ये टूर्नामेंट क्रिकेट को हाईलाइट करने का अच्छा विकल्प होगा, ये कहना है पाकिस्तान टीम के मुख्य कोच और चयनकर्ता मिस्बाह उल हक का। मिस्बाह उल हक ने कहा है कि मौजूदा परिस्थितियों को देखकर कहा जा सकता है कि लॉजिस्टिक्स एक बड़ा चैलेंज होगा। इसलिए किसी निर्णय पर पहुंचने से पहले अधिकारियों को पर्याप्त विचार-विमर्श करना चाहिए।

क्रिकेट बाज से बात करते हुए मिस्बाह उल हक ने कहा है, “16 टीमों की मेजबानी का लॉजिस्टिक्स आसान नहीं है, लेकिन अधिकारियों को यह समय देना चाहिए और कोई भी निर्णय लेने से पहले एक महीने या उससे अधिक समय तक इंतजार करना चाहिए। हर कोई ICC T20 विश्व कप देखना चाहता है। एक बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए क्रिकेट को उजागर करना के लिए ये सबसे अच्छा उत्पाद होगा।” 

पाकिस्तान टीम के पूर्व कप्तान मिस्बाह ने ये भी कहा है कि आने वाले समय में खिलाड़ी ही नहीं, बल्कि सपोर्ट स्टाफ के लिए भी इंग्लैंड का दौरा करना आसान नहीं होगा, क्योंकि ये परिस्थितियों क्रिकेट के लिए सही नहीं हैं, लेकिन इस कोविड -19 समस्या के कारण पूरी दुनिया में अभी अवसाद की भावना है और निलंबित खेलों के साथ मनोरंजन नहीं है। लोग आगे बढ़ना चाहते हैं इसलिए मुझे लगता है कि हमें यह कोशिश करनी चाहिए।

पाकिस्तान और इंग्लैंड बोर्ड ने जैव सुरक्षा वातावरण में तीन टेस्ट और तीन टी20 मैच खेलने के लिए जुलाई में इंग्लैंड दौरे पर चर्चा की है। यह विचार पहले वन टू वन ट्रेनिंग के लिए है, फिर खिलाड़ियों की संख्या को समूहों में बढ़ाया जाए। हमें एकजुट होकर क्रिकेट में वापसी के लिए तैयार होने की जरूरत है। गेंद को चमकाने के लिए लार का पसीना न लगाना जैसे नए नियमों का इस्तेमाल करना आसान नहीं होगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *