ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा-डराने वाली बात है कि विराट कोहली बेहतर से बेहतर होते जा रहे हैं


नई दिल्ली: विराट कोहली ने 2008 में इंटरनैशनल करियर का आगाज किया था, अपने शुरुआती दौर में विराट काफी आक्रामक हुआ करते थे। मौजूदा समय में दुनिया के बेस्ट बल्लेबाजों में शुमार विराट ने खुद को काफी बदला है। विराट आक्रामक अब भी हैं, लेकिन अब वो खुद को पहले से काफी ज्यादा निखार चुके हैं। विराट और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और मौजूदा समय के बेस्ट बल्लेबाजों में शुमार स्टीव स्मिथ की बल्लेबाजी की कई बार तुलना की जा चुकी है। स्मिथ ने एक इंटरव्यू में विराट को लेकर कुछ अहम बातें कहीं। स्मिथ का मानना है कि विराट हर दिन बेहतर होते जा रहे हैं, जो डराने वाली बात है।

तीनों फॉर्मैट में 50 से ऊपर का है औसत

टेस्ट, वनडे इंटरनैशनल या टी20 इंटरनैशनल विराट का बल्ला तीनों फॉर्मैट में हिट है। विराट तीनों फॉर्मैट में 50 से ज्यादा के औसत से रन बना चुके हैं। 86 टेस्ट, 248 वनडे इंटरनैशनल और 82 टी20 इंटरनैशनल मैच खेलने के बाद विराट 20,000 से ज्यादा रन बना चुके हैं। विराट और स्मिथ के बीच मैदान पर काफी प्रतिद्वंद्विता भी देखने को मिली है। 2019 वर्ल्ड कप मैच में हालांकि विराट ने ऐसा कुछ किया था, जिसने सबका दिल जीत लिया था। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए मैच के दौरान स्मिथ की हूटिंग हो रही थी, जिसमें विराट ने फैन्स से अपील की थी कि वो स्मिथ के लिए तालियां बजाएं।

‘हर दिन बेहतर होते जा रहे हैं विराट’

दरअसल स्मिथ को बॉल टैम्परिंग मामले में एक साल का बैन झेलना पड़ा था। स्टार स्पोर्ट्स के ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ शो पर स्मिथ ने कहा, ‘मैं विराट को काफी लंबे समय से जानता हूं। 2007 में ब्रिसबेन में वो जब अकैडमी का पार्ट थे, तो मैं दरअसल अकैडमी का पार्ट नहीं था, लेकिन गेंदबाजी की प्रैक्टिस करता रहता था। मैदान के बाहर हमारे बीच अच्छे से बात होती थी। कई बार जब आप अपने देश के लिए खेलते हैं तो इतने भावुक होते हैं कि चीजें कंट्रोल के बाहर चली जाती हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘विराट शानदार व्यक्ति हैं और वो भारत के लिए काफी शानदार चीजें कर चुके हैं। भारत में वो इस खेल के एंबैसडर बन चुके हैं। वो हर दिन पहले से बेहतर होते जा रहे हैं, जो डराने वाली बात है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *