इनके हौसले को सलाम, क्रिकेट के मैदान पर दिखाया क्या कमाल


शौकत अली
जीशान हैदर

लखनऊ। एनआर स्टेडियम पर चल रहा इंडसइंड बैंक दृष्टिबाधित नागेश ट्राफी क्रिकेट प्रतियोगिता का मुकाबला, एक छोर पर बल्लेबाजी करने को तैयार बल्लेबाजदूसरी ओर से गेंदबाज ने पूछकर गेंद गेंद फेंकी और उस पर बी वन श्रेणी के क्रिकेटर शौकत अली ने ऐसा शाॅट खेला कि हर कोई वाह-वाह कर उठा। अब लोग इसमें सोच रहे है कि इसमें नया क्या है तो यह भी जान लीजिए, शौकत अली  आंखों से देखने में असमर्थ है और उन्होंने आवाज और इशारों की भाषा से दुनिया को देखते हैं। सिपर्फ शौकत ही नहीं यहां खेल रहे कई ऐसे खिलाड़ी है जो 100 प्रतिशत दृष्टिबाधित है। इन्हें दृष्टिबाधित क्रिकेट में बी वन श्रेणी में रखा जाता हैं। वहीं बी टू श्रेणी में 60 पफीसदी दृष्टिबाधित और बी थ्री श्रेणी में 40 प्रतिशत दृष्टिबाधित खिलाड़ी खेलते हैं। यहां खेल रहे कई खिलाड़ी ऐसे है जो वनडे व टी20 वल्र्ड कप की विजेता भारत को दृष्टिबाधित क्रिकेट के भी सदस्य थे।
यूपी टीम के कप्तान शौकत अली पहले शतरंज व जूडो खेलते थे लेकिन फिर उन पर क्रिकेट का जुनून ऐसा चढ़ा कि वह पिछले नौ सालों से क्रिकेट खेल रहे है। शौकत 2018 में श्रीलंका दौर पर गई भारतीय टीम में भी शामिल थे, यह टीम वहां चैंपियन बनी थी। इसके साथ वह नेशनल व जोनल क्रिकेट टूर्नामेंटों में भी कमाल दिखा चुके है। शौकत अभी शंकुतला मिश्रा विश्वविद्यालय में बीएड के स्टूडेंट हैं
यूपी टीम के ही अहम सदस्य जीशान बी वन श्रेणी के क्रिकेटर है। वह अभी चंडीगढ़ में शिक्षक के पद पर कार्यरत है। कई राष्ट्रीय टूर्नामेंटों में खेल चुके जीशान  2016 में एशिया कप विजेता रही भारतीय टीम के सदस्य थे। जीशान 2001 से क्रिकेट खेल रहे है और उन्होंने अपनी पढ़ाई में भी कोई कमी नहीं छोड़ी। जीशान डबल एमए ओर बीएड डिग्री धारी है।

मो.फैजल
चंदन
रवि
संदीप कुमार

यूपी टीम के ही सदस्य अलीगढ़ निवासी मो.फैजल बी टू श्रेणी के क्रिकेटर है। फैजल 2017 में टी-20 वर्ल्ड कप की विजेता रही भारतीय टीम में शामिल थे। सोनभद्र निवासी चंदन बी थ्री श्रेणी के इंटरनेशनल क्रिकेटर हैं। चंदन 2018 में भारत में ही हुई त्रिकोणीय सीरीज (भारत, श्रीलंका, इंग्लैंड) के अहम सदस्य रहे है। इस सीरीज में भारतीय टीम चैंपियन बनी थी। चंदन इसके अलावा कई नेशनल टूर्नामेंटों में भी खेल चुके हैं।
टीम के सबसे कम उम्र के सदस्य रवि (13 साल) बी टू श्रेणी के क्रिकेटर है। इनका यूपी टीम में यह डेब्यू मैच हैं। इससे पहले जोनल व स्कूल टूर्नामेंटों में खेल चुके रवि को उनकी प्रतिभा देखते हुए यूपी टीम में चुना गया था।  संदीप कुमार कैटेगरी बी टू श्रेणी के क्रिकेटर और यूपी के उपकप्तान है। साल 2016 में राष्ट्रीय स्तर में पहली बार चयन हुआ। अब से लेकर आज तक उत्तर प्रदेश के लिए खेल रहा हूं। इसके अलावा एमएड करके बीएड स्टूडेंट को पढ़ाते है। मां यशोदा मेमोरियल शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान पुरवा मलिहाबाद लखनऊ में पढ़ा रहे हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *