पांच और बागी विधायक पहुंचे सर्वोच्च न्यायालय

बेंगलुरु/मुंबई : कांग्रेस के पांच और बागी विधायकों ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया। इन बागी विधायकों का कहना है कि उन्होंने स्वेच्छा से इस्तीफा दे दिया है। अब उनके इस्तीफे को विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार द्वारा स्वीकार कर लिया जाना चाहिए। बागी विधायकों के इस रुख से विधानसभा अध्‍यक्ष पर दबाव और बढ़ गया है। वहीं, मुंबई के होटल में रह रहे कांग्रेस और जेडीएस के बागी विधायक शनिवार को विशेष विमान से शिरडी पहुंचे और साई बाबा का दर्शन किया। सर्वोच्‍च न्‍यायालय से मांग की है कि वह विधानसभा अध्‍यक्ष को निर्देश दे कि वह विधायकों को अयोग्‍य नहीं बताएं और उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार करें। विधायकों ने यह भी दावा किया कि इस्तीफा देने पर उनके खिलाफ कोई अयोग्यता की कार्यवाही नहीं हुई थी। वहीं भाजपा नेता बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा कि हम अविश्‍वास प्रस्‍ताव के लिए तैयार हैं। हम इस बारे में सोमवार तक प्रतीक्षा करेंगे। इस बीच, कांग्रेस ने बागियों को मनाने की कोशिशें भी तेज कर दी हैं।

शनिवार को कांग्रेस के बागी विधायक एमटीबी नागराज सिद्दारमैया से मिलने उनके घर पहुंचे। इस दौरान कांग्रेस विधायक जमीर खान भी मौजूद थे। नागराज ने कांग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार से मुलाकात की। वहीं बेंगलुरु के रामाडा होटल में बीएस येदियुरप्‍पा ने भाजपा विधायकों के साथ एक बैठक की। दूसरी ओर निर्दलीय विधायकों आर शंकर और एच नागेश ने विधानसभा अध्‍यक्ष को पत्र लिखकर विधानसभा में विपक्ष में बैठने का बंदोबस्‍त करने की मांग की। बता दें कि ये दोनों विधायक मौजूदा गठबंधन सरकार से समर्थन वापसी की घोषणा कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *