टीचर ने बोर्ड पर छात्राओं को समझाए प्यार के फॉर्मूले, हुए सस्पेंड

एक अस‍िस्टेंट प्रोफेसर को मैथ में अपनी रचनात्मक द‍िखाना भारी पड़ गया. प्यार की अलग-अलग स्टेजों को मैथ के फॉर्मूले के माध्यम से कॉलेज की छात्राओं को समझाया तो उनका सस्पेंशन का ऑर्डर भी ई-मेल से उनके पास भेज द‍िया गया. घटना हर‍ियाणा के करनाल की है.

प्यार के फॉमूले को बोर्ड पर समझाने वाले मैथ के एक प्रोफेसर चरण स‍िंह को हायर एजुकेशन विभाग ने सस्पेंड कर दिया है. कॉलेज की प्रिंसिपल ने स्प्ष्ट क‍िया कि कॉलेज में ई-मेल से सस्पेंड होने की सूचना भेज दी गई है.

बता दें क‍ि हरि‍याणा में करनाल के रेलवे रोड स्थित महिला कॉलेज में एक असिस्टेंट प्रोफेसर ने बीकॉम प्रथम वर्ष की छात्राओं को प्यार के फाॅर्मूले उदाहरणों को बोर्ड पर लिखकर समझाए थे.

छात्राएं भी इस मामले में कम नहीं थी. छात्राओं ने इस पूरी ‘लव क्लास’ का वीडियो बना लिया था. प्रोफेसर ने तीन फॉर्मूले बोर्ड पर लिखकर प्यार की परिभाषा समझाई थी. इसमें कई तरह की बातें म‍िक्स थीं.

लड़क‍ियों ने वीडियो को माध्यम बनाकर इसकी शिकायत प्रिंसिपल को कर दी थी थी. मामला हायर एजुकेशन व‍िभाग में जाने के बाद असिस्टेंट प्रोफेसर को सस्पेंड कर दिया. सस्पेंशन की सूचना भी ई-मेल के जर‍िए दी गई.

अस‍िस्टेंट प्रोफेसर ने छात्राओं को प्यार के तीन फॉमूले बताए थे. इन फॉर्मूलों को बोर्ड पर ल‍िखने के बाद इनके बारे में ड‍िटेल में बताया था. इस बारे में उन्होंने छात्राओं से कई बातें पूछीं तो कुछ छात्राओं ने उन्हें जवाब भी द‍िया था.

इनमें पहला फॉर्मूला था क्लोजनेस-अट्रैक्शन= फ्रेंडश‍िप. इस टर्म को प्रोफेसर ने बड़ी गहराई से समझाया. इसे समझाने के ल‍िए गण‍ित के फॉर्मूलों को सहारा ल‍िया.

प्रोफेसर ने अपना दूसरा फॉर्मूला बोर्ड पर ल‍िखा था, क्लोजनेस + अट्रैक्शन = रोमांट‍िक लव. इसमें टीचर ने समझाया क‍ि क्लोजनेस और अट्रैक्शन का माइनस फॉर्मूला फ्रेंडश‍िप होता है तो वहीं प्लस होने पर ये रोमांट‍िक प्यार में बदल जाता है.

प्रोफेसर ने तीसरा फॉर्मूला था बोर्ड पर ल‍िखा था, अट्रैक्शन – क्लोजनेस = क्रश. इसके बारे में भी प्रोफेसर ने अच्छी-खासी क्लास ली. इसमें बताया गया क‍ि अट्रैक्शन में क्लोजनेस नहीं रहती है तो वह क्रश में बदल जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *