आखिर पेड़ पर उल्टा ही क्यों लटकते हैं चमगादड़ ? जानिए ये राज

चमगादड़ आप सभी ने देखा होगा जो कि शाम के वक्त ज्यादातर दिखाई देने लगते हैं। चमगादड़ अपनेआप में कई अनोखी चीजें लिए हुए हैं। स्तनधारी जीवों में यह एकमात्र ऐसा जीव है जो उड़ सकता है। माना जाता है कि आज से करीब 10 करोड़ साल पहले यानी डायनासोरों के समय में भी धरती पर रहा करते थे और आज भी धरती पर इनकी मौजूदगी है। लेकिन क्या आपने कभी इनके बारे में यह जानने की कोशिश की हैं कि आखिर ये उल्टा ही क्यों लटके रहते हैं, सीधे क्यों नहीं बैठते? तो आइये आज हम बताते हैं आपको इसका राज।

अब आते हैं इस सवाल पर कि आखिर चमगादड़ उल्टा क्यों लटके रहते हैं? तो इसके पीछे वजह ये है कि उल्टा होने से ये बड़ी आसानी से उड़ान भर सकते हैं। दरअसल, बाकी पक्षियों की तरह चमगादड़ जमीन से उड़ान नहीं भर पाते, क्योंकि उनके पंख उतने उठान नहीं देते, जितनी उड़ने के लिए जरूरत होती है। इसके अलावा उनके पिछले पैर छोटे और अविकसित भी होते हैं, जिसकी वजह से वो दौड़ कर गति नहीं पकड़ पाते।

दरअसल, चमगादड़ उल्टा लटके हुए सोते रहते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये अपना संतुलन खोकर गिरते क्यों नहीं हैं? रिपोर्ट के मुताबिक, इसकी वजह ये है कि इनके पैरों की नसें इस तरह व्यवस्थित हैं कि उनका वजन ही उनके पंजों को मजबूती के साथ पकड़ने में मदद करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *